बुधवार, 10 दिसंबर 2014

ज़िन्दगी में कोई इस क़दर न आये ।

ज़िन्दगी  में  कोई  इस क़दर  न आये ।
कि जाने पर ज़िन्दगी अधूरी हो जाये ।।
तुम ऐसा कुछ  तो  हमसे कह दो यार ।
कि  मुझे   तुमसे   नफ़रत   हो  जाये ।।

2 टिप्‍पणियां:

  1. प्यार के बीच में नफरत का कोई काम नहीं ..

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. जब प्यार दर्द देने लगे तो नफरत ज़रूरी हो जाती है।

      हटाएं